Breaking News

चौधरी ने योगी सरकार पर सवाल उठा दिए


 दोस्तों की उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को हाथरस के हाथ से के लिए जिम्मेदार ठहरने सुधीर चौधरी हाथरस में जो हादसा हु


आ उसके लिए योगी सरकार की आलोचना की जा रही है सोचिए दोस्तों जिस शो में सरकार के प्रवक्ता की तरह बात किया करते थे आज इस शो में प्रशासन के पल कैसे खोलने लगता है दरअसल दोस्तों सुधीर चौधरी अपने शो ब्लैक एंड व्हाइट में हाथरस में बाबा भोले के जो सत्संग में भगदड़ हुई है उसे पर एक पूरी रिपोर्ट कर रहे थे एनालिसिस था उनका की आखिरी हादसा हुआ कैसे इसके लिए जिम्मेदार कौन है क्या क्या कमियां थी प्रशासन की ओर से क्या क्या

कमियां थी इस दौरान सुधीर चौधरी ने योगी सरकार पर सवाल उठा दिए सो मैं सुधीर चौधरी कहते हैं कि जो कुछ भी हुआ उसमें योगी आदित्यनाथ की जिम्मेदारी बनती है मुख्य तौर पर उनकी जिम्मेदारी है क्योंकि उनके प्रशासन ने यह सुनिश्चित नहीं किया कि यह 1 लाख लोग सुरक्षित रहे उनके प्रशासन ने यह सुनिश्चित नहीं किया कि उचित इंतजाम किया जाए वहां पर डॉक्टर रहे वहां पर एंबुलेंस का प्रबंध रहे और जबहॉस्पिटल भी गए तो वहां पर उन्हें उचित इंतजाम मिले क्योंकि हाथरस जैसे जगह पर अस्पताल भी ऐसे हैं कि इतने सारे लोगों के पास इतना इंफ्रास्ट्रक्चर नहीं है इसलिए योगी आदित्यनाथ की

और उनके प्रशासन की यह पहली जिम्मेदारी बनती है तो यहां पर सुधीर चौधरी सीधे तौर पर हाथरस हादसे के बाद जो चिकित्सा व्यवस्था में कमी देखने को मिली उसे पर निशाना साधना इतना ही नहीं सुधीर चौधरी ने यह भी कह दिया कि योगी आदित्यनाथ नहीं घोषणा तो कर दी कि उन्होंने बड़े-बड़े अधिकारियों को मंत्रियों को डीजीपी को वहां पर भेज दिया है हाथरस में लेकिन यह काम पहले होना चाहिए था जब एसडीएम परमिशन दे रहे थे तब उनको पूछना चाहिए था कि यहां पर घटनास्थल जो है वहां पर एक डेढ़ लाख लोग आने वाले हैं तो उनके लिए क्या-क्या व्यवस्थाएं की गई है एंबुलेंस वहां पर है

कि नहीं है आ पानी का इंतजाम है कि नहीं है चिकित्सा का क्या इंतजाम है यह तमाम सवाल पूछना चाहिए थे लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हुआ एंबुलेंस भी वहां पर तब पहुंची जब काफी देर हो चुकी थी क्योंकि वहां पर सड़क ऐसी नहीं थी कि एंबुलेंस जल्दी वहां पहुंच पाएसड़कों पर गंदे थे यानी की कुल मिलाकर के प्रशासन की गलती यहां पर निकाली जा रही है अब जिस तरीके से दोस्तों सुधीर चौधरी ने पलटी मारी है वह काफी हैरान करने वाला है आपको याद होगा कोरोना के दौरान जब कोरोना कल चल रहा था उसे दौरान उत्तर प्रदेश की जनता को ऑक्सीजन सिलेंडर नहीं मिल पा रहे थे तमाम तरीके की

सरकार पर तब भी सवाल उठ रहे थे लेकिन तब यही सुधीर चौधरी थे जो योगी आदित्यनाथ को और योगी सरकार को डिफरेंट करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे थे और आज ऐसा क्या हो गया कि खुद इस तरीके से सरकार पर सवाल उठाने लग गए दोस्तों इसके पीछे भी एक बहुत बड़ी वजह मानी जा रही है आपको अरविंद केजरीवाल का वह बयान याद है चुनाव से पहले का जब उन्होंने कहा था कि अगर एनडीए इस बार भी चुनाव जीत जाता है गठबंधन तो योगी जो है वो उत्तर प्रदेश के कम नहीं रहेंगे सीएम पद से हटा दिए जाएंगे योगी आदित्यनाथ जी को अगर यह लोग जीत गए तो योगी आदित्यनाथ जी

को 2 से 3 महीने के अंदर उत्तर प्रदेश के सीएम पद से हटा दिया जाएगा अब दोस्तों लोगों का मानना है किकहीं ऐसा तो नहीं है कि अरविंद केजरीवाल का जो बयान था वह सच होने वाला है कहीं जानबूझकर भारतीय जनता पार्टी और पूरा गोदी मीडिया का एक सिस्टम सीएम योगी को कुर्सी से हटाने के प्लानिंग तो नहीं कर चुका है क्योंकि जिस तरीके से उत्तर प्रदेश में इस बार भारतीय जनता पार्टी को करारी मां दी है इंडिया गेट बांधने उसे योगी आदित्यनाथ की जो एक पकड़ थी मानी जाती थी कि उत्तर प्रदेश में योगीराज है वह कहीं ना कहीं कमजोर पड़ती हुई दिखाई दे रही और शायद इसी वजह से

भारतीय जनता पार्टी योगी आदित्यनाथ को साइड लगाने की कोशिश कर रही है ये तमाम सवाल अब उठने लगे हैं खैर अब भाजपा की तरफ से इस पर कोई ऑफिशियल बयान तो आया नहीं है लेकिन गोदी मीडिया जिस तरीके से योगी सरकार पर हमलावर हो रहा है उस सवाल उठाना प्लाजमी है आप सुधीर चौधरी के वीडियो को शेयर करते हुए खुद अखिलेश यादव ने ट्वीट किया है उन्होंने जिस तरीके से वह पत्रकारिता में बदलाव लाए हैं उसे पर एक ट्वीट किया है लिखा है कि यही है मीडिया का सच्चा धर्म गलत पर चले जुबान और कलमइसके अलावा अमरनाथ कुमार का ट्वीट देखिए लिखते हैं कि मैं तो पहले ही

कहा था कि मुख्यमंत्री का इस्तीफा होना चाहिए हाथरस कांड के लिए अब सुधीर चौधरी भी मुख्यमंत्री योगी को दोषी ठहरा रहे हैं योगी प्रशासन की पोल खोल कर रहे हैं आप भी सुनिए भाजपा लिखती हैं कांग्रेस इंडिया गठबंधन की नेता लिखती है कि सुधीर चौधरी जो भाजपा की दलाली में सुबह शाम रहता है वह योगी सरकार के खिलाफ रिपोर्टिंग कर रहा है कुछ शंका हो रही है त्रिलोक अमन कटारिया कटोरी देखिए लिखा है कि सुधीर चौधरी के पत्रकारिता बदल गई है योगी के चापलूसी के जगह योगी पर सवाल उठा रहे हैं क्या केजरीवाल की भविष्यवाणी सच तो नहीं होने वाली है योगी आदित्यनाथ पर दबाव बना शुरू हो चुका है तो यह तमाम ट्वीट सोशल मीडिया पर लोग कर रहे हैं और सवाल उठने लगे हैं कि कहीं योगी

No comments