Breaking News

Car AC will do good cooling in the summer season

 इतनी गर्मी पड़ रही है कि बिना इसी गुर्जर एकदम मुश्किल है जब भी हम तपती हुई गाड़ी में बैठते हैं तो तुरंत इसी फूल ब्लास्ट पर चला देते हैं ताकि गाड़ी जल्दी से जल्दी ठंडी हो जाए अगर आप भी ऐसा करते हैं तो रुक जाइए या आपकी सेहत के लिए नुकसानदेह है दरअसल हमारी कर के अंदर का तापमान हमारे फेफड़ों और हमारे शरीर के तापमान से ज्यादा होता है इसलिए तुरंत एक ऑन करने से हमारे फेफड़ों ड्राई हो जाते हैं यानी उनमें सुख पर आ जाता है नतीजा सांस लेने में दिक्कत और


खांसी एक बात और कर के अंदर की हवा सिर्फ राय ही नहीं होती है बल्कि उसमें धूल भी भारी होती है अगर एक के वेंट्स को आप समय-समय पर साफ ना करें तो धूल और गंदगी बढ़ती जाती है फिर जब हम कर में घुसते ही तुरंत एक ऑन करते हैं तब यह दूषित हवा सीधे हम पर पड़ती है इसे ई के आ सकती हैं एलर्जी हो सकती है नाक और गले में सुख पर महसूस हो सकता है और सिर्फ यही नहीं अस्थमा और ब्रोंकाइटिस जैसी दिक्कतें बढ़ सकती है आज किस एपिसोड में हम डॉक्टर से जानेंगे

कि इन दोनों गाड़ी में घुसते हीतुरंत एक ऑन करने से सेहत को क्या नुकसान हो सकता है और डॉक्टर विकल्प के तौर पर क्या टिप्स देते हैं सुनिएतो अगर हम इम्मीडिएटली अपना एक ऑन करेंगे और उसमें उसको बहुत ठंडा कर देंगे और हम बहुत ज्यादा रखेंगे तो उसने क्या होगा कि तेरे चेंज ऑफ टेंपरेचर टेंपरेचर सुद्दनली चेंज करेगा बॉडी इतनी जल्दी अटैक नहीं कर सकती उसे ठंड को और फिर हमें दर्द हो

सकता है हमारे बॉडी में दर्द हो सकता है कि यह चक्कर भी आ सकते हैं और गले के भी आपको इंफेक्शन हो सकते हैंपर गाड़ी में बैठते ही फूल ब्लास्ट पर एक ऑन करने से बच्चे डॉक्टर साहब ने जो टिप्स बताई हैं उन्हें याद रखिए बहुत काम आएंगे सेगमेंट की तरफ तन की बात आंखों की रोशनी तेज करने के लिए और मोतियाबिंद से निपटने के लिए क्या आंखों में कैस्टर ऑयल लगाना चाहिएआजकल सोशल मीडिया पर एक फ्रेंड खूब चल रहा है आंखों में कैस्टर ऑयल लगाने का इसमें लोग अपनी बंद आंखों के ऊपर एक आंख बूंद यह तेल लगाते हैं फिर वह फलों के जरिए धीरे-धीरे आंख के

दर चला जाता है अब ट्रेंड में शामिल लोगों का मानना यह है की आंखों को बहुत फायदा होता है मोतियाबिंद और ग्लूकोमा जिसे हम काला मोतियाबिंद भी कहते हैं इनसे छुटकारा मिलता है हालांकि सेहत से जुड़े ऐसे ट्रेंड आपको आंख बंद कर फॉलो नहीं करने चाहिए जरा सी भी गलती आपको बहुत नुकसान पहुंचा सकती है उसे पर आकर बहुत ही नाजुक अंग है ऐसे में एक्सपर्ट ऑपिनियन बहुत जरूरी है कैस्टर

ऑयल हमारे बालों और स्क्रीन के लिए फायदेमंद माना जाता है यह एक नेचुरल मॉइश्चराइजर होता है लेकिन क्या यह हमारी आंखों के लिए सही है क्या इससे मोतियाबिंद और ग्लूकोमा ठीक किया जा सकता है इस बारे में हमने बात की डॉक्टर नेहा जैन से डॉक्टर नेहा बताती है कि कैस्टर ऑयल मोतियाबिंद या ग्लूकोमा ठीक कर सकता है इसका कोई भी साइंटिफिक प्रूफ नहीं है उल्टा इसे आंखों पर लगाने से आंखों में जलन हो सकती है एलर्जी होसकती है और सुखी क्वालिटी घट सकती है धुंधला दिखाई देने लगता है और आंखों में इन्फेक्शन भी फैल सकता है कैस्टर ऑयल

हमारी पलकों को चिकनाई देने वाली ग्रंथियां को ब्लॉक कर सकता है जिससे आंखों में सुख पान की दिक्कत हो सकती है और सिर्फ यही नहीं कॉर्डियल अल्सर भी हो सकता है कॉर्नियल अल्सर में आंखों के कॉर्निया पर घाव हो जाता है कॉर्निया यानी आंखों की सबसे बाहरी परत इसी आंखों में लगाना किसी भी तरह से सुरक्षित नहीं है और जहां तक बात रही मोतियाबिंद की तो इसका इलाज सिर्फ एक ही है और वह है सर्जरी हालांकि इस ड्रॉप या दवाई से ठीक करने पर रिसर्चअभी चल रही है 


No comments